युवराज सिंह वर्सेस युजवेंद्र चहल | Yuvraj singh vs chahal news

Spread the love

बीते शनिवार को युवराज सिंह की गिरफ्तारी हुई और हरियाणा सरकार ने उन्हें गिरफ्तार किया हालांकि मामला पिछले साल का था जब युवराज सिंह ने इंस्टाग्राम लाइव चैट पर (सोशल मीडिया) रोहित शर्मा के साथ बातों ही बातों में युजवेंद्र चहल पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी थी। इस बात को विस्तार में जानते हैं –

युवराज सिंह जेल न्यूज़ लेटेस्ट

संडे 17 अक्टूबर 2021 को हरियाणा पुलिस ने बताया कि युवराज सिंह को हाई कोर्ट आर्डर के बाद बेल दे दी गई है। युवराज सिंह को फॉर्मल अरेस्ट के तौर पर शनिवार को अरेस्ट किया गया था। हरियाणा के हांसी शहर के DSP विनोद शंकर ने कहा की जब युवराज शनिवार को हांसी शहर आए तो उन्हें एक फॉर्मल तौर पर गिरफ्तार किया गया और कुछ ही घंटो में पंजाब और हरयाणा हाई कोर्ट के आर्डर पर बेल पर रिहा कर दिया गया।

युवराज सिंह गिरफ्तारी की वजह

युवराज सिंह विवाद – पिछले साल रोहित शर्मा के साथ इंस्टाग्राम चैट के दौरान पूर्व क्रिकेटर युवराज सिंह ने अपने एक साथी खिलाड़ी यूज़वेंद्र चहल पर टिप्पणी की थी जो कुछ लोगों को नागवार गुजरीऔर युवराज सिंह पर जातिवाद का आरोप लगाते हुए केस कर दिया गया। हालांकि उसके बाद युवराज सिंह ने इंस्टाग्राम पर एक लंबा चौड़ा पोस्ट लिखते हुए माफी भी मांगी और कहा कि उनकी बातों का गलत मतलब निकाला गया है उन्होंने अपने दोस्त रोहित शर्मा के साथ इंस्टाग्राम  लाइव चैट के दौरान कुछ बातें शेयर की थी पर उनका इंटेंशन किसी को हर्ट करना नहीं था और यदि उनकी टिप्पणी या उनकी बातों से किसी को बुरा लगा है तो वे उसके लिए खेद जाहिर करते हैं ऐसा उन्होंने लिखा था।

युवी ने मांगी सोशल मीडिया पर माफ़ी

सोशल मीडिया पर पिछले साल यह मामला ट्रेंडिंग पर रहा और उसके बाद पूरे देश में हंगामा सा हो गया, मजबूरन युवराज को माफ़ी मांगनी पढ़ी थी। युवराज ने एक डेडिकेटेड पोस्ट लिखा और उसपे अपनी सफाई पेश करते हुए देशवासियो से माफ़ी मांगी और साथ ही कहा की उनकी बातों का गलत मतलब निकला गया है। हालांकि, युवराज सिंह की यु वि कैन संस्था भी है जो पीड़ितों की मदद करती है। युवराज सिंह ने इंग्लैंड के खिलाफ 6 बॉल पर 6 सिक्स लगाने का कारनामा भी सबसे पहले किया था पर इस बार हालात कुछ अलग से हैं वे ग्राउंड पर भी नहीं हैं और विवादों में भी हैं।

युजवेंद्र सिंह टिक टोक

दरअसल मामला तो 2019 का है जब युजवेंद्र टिक टोक पर काफी सक्रीय रहते थे और अक्सर अपनी डांस की वीडियो भी अपलोड करते रहते थे, उन दिनों भारत में टिक टोक बैन नहीं हुआ था। आपने भी युजवेंद्र के वीडियो ज़रूर देखे होंगे वे काफी एक्टिव रहते हैं और वे अक्सर टीम के सफर के दौरान एक हलके अंदाज़ में अपने साथी कलाकारों का इंटरव्यू लेते हुए देखे गए हैं। चहल कभी एरोप्लेन में तो कभी बस में भी इंटरव्यू लेते हुए देखे गए हैं। युजवेंद्र की कुछ समय पहले शादी भी हो गयी पर उनका अंदाज़ नहीं बदला और अब वे अपनी पत्नी धनश्री चहल जो की पहले धनश्री वर्मा थी के साथ वीडियो अपलोड करते रहते हैं। अब टिक टोक तो नहीं है पर आप उनके इंस्टाग्राम वीडियो और रील्स देख सकते हैं।

युवराज सिंह अपडेट

भारत के पूर्व खिलाडी और सिक्सर किंग के नाम से फेमस युवराज सिंह को हरियाणा के हिसार जिले के हांसी शहर में बीते शनिवार को गिरफ्तार किया गया था बाद में हाई कोर्ट के आदेश पर उन्हें बेल पर रिलीज़ कर दिया गया। दरअसल रजत कलसन नाम के एक अधिवक्ता ने हिसार के हांसी शहर के थाने में युवराज के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी और वजह थी युवराज सिंह का इंस्टाग्राम लाइव चैट पर साथी खिलाडी युजवेंद्र चहल (spin bowler) पर जाती सूचक टिपण्णी करना जिसके बाद पूरे देश में काफी बवाल मचा था और युवराज को बुरी आलोचना झेलनी पड़ी थी।

युवराज सिंह को जेल में मिली विआईपि ज़िन्दगी

युवराज सिंह को जेल में मिली VIP ट्रीटमेंट ऐसा आरोप लगाया गया है शिकायतकर्ता रजत कलसन के द्वारा। रजत कलसन के अनुसार हरियाणा पुलिस ने युवराज के साथ कैदियों जैसा बर्ताव नहीं किया बल्कि उनके साथ सेल्फी खिंचवाने में लगे रहे और युवराज को गैजेटेड ऑफिसर मेस में जूस भी पिलाया गया। कलसन ने कहा की जानबूझकर मीडिया से इस बात को दूर रखा गया। युवराज की बेल पर शिकायतकर्ता ने कहा की वे सुप्रीम कोर्ट को एप्रोच करेंगे और युवी की ज़मानत के आदेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देंगे।

रजत कलसन कौन हैं (who is rajat kalsan)

युवराज सिंह को जेल तक पहुँचाने वाले शिकायत करता खुद भी पेशे से एक वकील हैं और कलसन के अनुसार युवराज के खिलाफ हांसी पुलिस अदालत में चालान पेश करेगी जिसके बाद युवराज की मुश्किलें बढ़ेंगी और उन्हें विशेष अदालत से नियमित ज़मानत हांसिल करनी पड़ेगी। युवराज को विशेष अदालत में हर तारीख पर पेश होना पड़ेगा और अपराध साबित होने पर 5 साल की सजा भी मुमकिन है। युवराज पर अनुसूचित जाती व जनजाति अत्याचार अधिनियम के तहत केस चल रहा है।


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top
How to play yorker ball in cricket ICC Women’s World Cup 2022 Schedule Under 19 Cricket World Cup 2022 India Squad Irfan Pathan becomes father again Joe Root breaks Sachins Record