स्मृति मंधाना का जीवन परिचय | स्मृति मंधाना बायोग्राफी

Spread the love

स्मृति मंधाना का जीवन परिचय – वह पहले की बात थी जब महिलाएं क्रिकेट से बोर हो जाती थी आज जमाना बदल चुका है और महिलाएं भी है क्रिकेट में दिलचस्पी ले रही है। आज इस आर्टिकल के जरिए हम जानेंगे स्मृति मंधाना का जीवन परिचय, भारत में क्रिकेट को धर्म के समान माना जाता है और हर कोई क्रिकेट में अपना करियर बनना चाहता है किंतु क्रिकेट में करियर बनाना किसी अग्नि परीक्षा को पास करने से कम नहीं उसका सीधा सा कारण है अत्यधिक कंपटीशन और क्रिकेटर बनने के लिए क्या करना पड़ता है, कहां अप्लाई करना होता है, कैसे अप्लाई करना होता है यह लोगों को पता ही नहीं है। बहरहाल, आज का आर्टिकल एक ऐसी दिग्गज खिलाड़ी के बारे में है जिनका नाम स्मृति मंधाना है और जिन्होंने लाखों दिलों में काफी कम उम्र में ही अपनी जगह बना ली है इन्होंने भारतीय महिला क्रिकेट टीम में अपनी जगह पक्की कर रखी है और भारत को कई सारे क्रिकेट मैच भी अकेले अपने दम पर जीत का स्वाद बार-बार चखाया है, चलिए शुरू करते हैं स्मृति मंधाना को जानने का सिलसिला।

Table of Contents

स्मृति मंधाना का जीवन परिचय

स्मृति मंधाना का जन्म  2 जुलाई 1996 को महाराष्ट्र में हुआ था। स्मृति मंधाना मारवाड़ी है और  स्मृति की फैमिली में उनके माता-पिता तथा एक भाई है। स्मृति के पिताजी का नाम श्रीनिवासन मंधाना है और स्मृति की माता जी का नाम स्मिता मंधाना है तथा उनके भाई का नाम अभी मंधाना है। 

स्मृति मंधाना का प्रारंभिक जीवन

स्मृति मंधाना 2 वर्ष की आयु में अपने परिवार के साथ माधवनगर, सांगली मे आई थी सांगली महाराष्ट्र राज्य में  स्थित है। कह सकते हैं कि स्मृति क्रिकेट बैकग्राउंड से ताल्लुक रखती है तथा क्रिकेट उनके रगों में दौड़ता है क्योंकि उनके पिताजी और उनके भाई भी क्रिकेट खेल में भागीदार रह चुके हैं। स्मृति के पिता और भाई दोनों ही डोमेस्टिक क्रिकेटर रह चुके थे और उनके भाई श्रवण ने महाराष्ट्र के लिए अंडर सिक्सटीन रणजी ट्रॉफी भी खेला है। स्मृति मंधाना की माताजी स्मिता मंधाना का भी स्मृति के करियर में काफी योगदान रहा है, स्मृति के पिता एक केमिकल डिस्ट्रीब्यूटर रहे हैं तथा उन्होंने स्मृति के क्रिकेट प्रोग्राम तथा टाइमिंग का पूरा ख्याल रखा है उनकी माताजी ने स्मृति के बैकपैकिंग से लेकर टिफिन तथा कपड़ों का पूरा ध्यान रखा है। 

स्मृति मंधाना डोमेस्टिक क्रिकेट करियर

स्मृति मंधाना ने महज 9 वर्ष की आयु से ही क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था और उन्होंने गली क्रिकेट की बजाए प्रोफेशनल क्रिकेट को अहमियत दी। स्मृति मंधाना पहली सफलता 15 वर्ष की आयु में हासिल की जब उनका सिलेक्शन अंडर 15 क्रिकेट टूर्नामेंट में हो गया था, महज 9 वर्ष की उम्र में ही स्मृति का सिलेक्शन महाराष्ट्र अंडर 15 क्रिकेट टीम में हो गया था तथा 11 वर्ष की उम्र में उनका सिलेक्शन  महाराष्ट्र अंडर-19 क्रिकेट टूर्नामेंट के लिए हो गया था। इसके बाद तो मानो स्मृति मंधाना को पंख लग गए और उन्हें समझ आ गया कि क्रिकेट में करियर कैसे बनाया जाता है तथा उन्होंने लगभग हर महिला क्रिकेट कैटेगरी में पार्टिसिपेट किया। 

यदि आप भी जानना चाहते हैं कि भारत के लिए क्रिकेट कैसे खेले तो दिए गए लिंक पर क्लिक करें और आपके सामने संबंधित आर्टिकल खुल जाएगा। वुमन अंडर-19 महाराष्ट्र क्रिकेट टीम  मैं सिलेक्शन स्मृति की जिंदगी का टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ और इस मौके के बाद से लगभग तमाम डोमेस्टिक क्रिकेट मैचेस में स्मृति का प्रदर्शन बेहतरीन रहा।

2013 में सारी दुनिया ने स्मृति मंधाना की बल्लेबाजी की चमक देखी इस वर्ष महाराष्ट्र और गुजरात के बीच    वेस्ट जोन अंडर-19 क्रिकेट टूर्नामेंट, अलेमबिक क्रिकेट ग्राउंड वडोदरा गुजरात में था जिसमें स्मृति मंधाना ने महाराष्ट्र की ओर से खेलते हुए दोहरा शतक जड़ा। खब्बू बल्लेबाज स्मृति ने 150 गेंदों की मदद से नाबाद 224* रन की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की और सिलेक्टर्स का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया। इस इनिंग्स के बाद ना केवल सिलेक्टर्स का ध्यान उन पर गया बल्कि वह पूरे अखबारों में छा गई और सारी दुनिया का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करने में कामयाब रही। आपको बता दें कि उस मैच में दोहरा शतक लगाने के बाद स्मृति मंधाना को पहली महिला क्रिकेटर का गौरव प्राप्त हुआ जिसने एकदिवसीय मैच में दोहरा शतक लगाया हो। 

वर्ष 2016 –  2016 में स्मृति मंधाना ने वूमेन चैलेंजर ट्रॉफी में प्रतिभाग किया और अपनी प्रतिभा का जलवा बिखेरा। स्मृति ने इस टूर्नामेंट में इंडिया रेड की ओर से खेलते हुए 3 अर्धशतक लगाए तथा कुल 192 रन बनाए  और साथ ही इस टूर्नामेंट की सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी भी बनी। फाइनल मुकाबला इंडिया रेड और इंडिया के बीच था जिसमें इंडिया रेड की ओर से खेलते हुए स्मृति मंधाना ने 82 गेंदों का सामना करते हुए नवाद 62 रन बनाए और अपनी टीम को शानदार जीत दिलाई।

स्मृति मंधाना बिग बैश लीग – वर्ष 2016 में स्मृति मंधाना और हरमनप्रीत कौर भारत की ओर से पहली दो महिला क्रिकेट खिलाड़ियों में बनी जिनका चुनाव बिग बैश लीग के लिए हुआ।

स्मृति मंधाना इंटरनेशनल क्रिकेट करियर

स्मृति मंधाना टेस्ट क्रिकेट डेब्यु – स्मृति मंधाना ने सन 2014 में  इंग्लैंड के खिलाफ अपने टेस्ट क्रिकेट करियर की शुरुआत वर्मस्ले पार्क मे की थी। हालांकि स्मृति मंधाना ने दोनों परियों को मिलाकर 73 रन ही बनाए थे किंतु वे रन काफी महत्वपूर्ण थे तथा इस टेस्ट मैच में भारत को विजय मिली थी।

स्मृति मंधाना एक दिवसीय डेब्यु – स्मृति मंधाना ने अपना पहला अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय शतक ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लगाया उन्होंने 109 गेंदों का सामना करते हुए 102 रन बनाए। 2016 में  भारतीय महिला क्रिकेट का ऑस्ट्रेलिया दौरा होबार्ट मे था जहां स्मृति को अपना पहला वन डे इंटरनेशनल शतक लगाने का मौका मिला।  मेरी बात करें वर्ल्ड कप की तो स्मृति मंधाना भारतीय महिला वर्ल्ड कप टीम का हिस्सा रही थी जब भारत 2017 वूमंस वर्ल्ड कप फाइनल इंग्लैंड के खिलाफ महज 9 रन से हार गया था।

स्मृति मंधाना खेल पुरस्कार

वर्ष 2018 –  बीसीसीआई ने स्मृति को बेस्ट वुमन क्रिकेटर ऑफ द ईयर का अवार्ड दिया था। 

वर्ष 2019 – आईसीसी वुमन क्रिकेटर ऑफ द ईयर।  

वर्ष 2019 – आईसीसी वुमन वनडे क्रिकेटरऑफ द ईयर।

वर्ष 2019 –  भारत सरकार ने स्मृति मंधाना को अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया था।

स्मृति मंधाना का निजी जीवन

क्रिकेट फैंस या यूं कह लीजिए स्मृति मंधाना फैंस अक्सर गूगल में सर्च करते हैं और पूछते हैं कि स्मृति मंधाना का बॉयफ्रेंड कौन है! स्मृति मंधाना का पति कौन है? तो हम आपको बताते हैं स्मृति मंधाना की अब तक शादी नहीं हुई है और उनके बॉयफ्रेंड के विषय में स्मृति मंधाना की ओर से अब तक कोई जानकारी नहीं दी गई है। 

2022 में स्मृति मंधाना क्रिकेट जगत में एक जाना माना नाम बन चुकी है, और इसी वर्ष 4 मार्च से आईसीसी वूमंस वर्ल्ड कप 2022 शुरू होने वाला है। यदि एक महिला क्रिकेटर बनना चाहती हैं, आप भी स्मृति मंधाना की तरह क्रिकेट खेलना चाहती हैं और आपको समझ नहीं आ रहा है कि गर्ल क्रिकेटर कैसे बने तो दिए गए लिंक पर क्लिक करें और आपकी मदद के लिए एक आर्टिकल आपके सामने पेश हो जाएगा। यदि आपको क्रिकेट बैटिंग सुधारने या अन्य क्रिकेट स्किल से संबंधित अथवा क्रिकेट में करियर बनाना से संबंधित कोई सवाल परेशान कर रहा है तो आप बेहिचक कमेंट बॉक्स में सवाल पूछ सकते हैं हम देर सवेर आपको जवाब जरूर देंगे।

faq

स्मृति मंधाना के पिता जी का क्या नाम है?

स्मृति मंधाना के पिताजी का नाम श्रीनिवासन मंधाना है

स्मृति मंधाना की माता जी का क्या नाम है

स्मृति मंधाना की माता जी का नाम स्मिता मंधाना है

स्मृति मंधाना ने अपना पहला डोमेस्टिक क्रिकेट किस राज्य के लिए खेला?

 स्मृति मंधाना महाराष्ट्र के लिए डोमेस्टिक क्रिकेट खेलती आई हैं।

स्मृति मंधाना ने पहला अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैच कब खेला?

सन 2014 में स्मृति मंधाना ने अपना पहला अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैच खेला।

स्मृति मंधाना का जन्म कौन से राज्य में हुआ था?

स्मृति मंधाना का जन्म महाराष्ट्र में हुआ था।

स्मृति मंधाना नए क्रिकेट खेलना कब शुरू किया?

9 वर्ष की आयु में।

स्मृति मंधाना को अर्जुन पुरस्कार किस वर्ष मिला?

 स्मृति को अर्जुन पुरस्कार 2019 में भारत सरकार की ओर से दिया गया।

पहली बार स्मृति आईसीसी वुमन क्रिकेटर ऑफ द ईयर कब बनी?

2019 में स्मृति को आईसीसी वुमन क्रिकेटर ऑफ द ईयर चुना गया।


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top
यॉर्कर बॉल कैसे खेला जाता है आई सी सी महिला वर्ल्ड कप 2022 शेडूल अंडर 19 क्रिकेट वर्ल्ड कप 2022 भारतीय दस्ता इरफ़ान पठान बने पिता दोबारा जो रुट ने सचिन का रिकॉर्ड तोडा