आई सी सी t20 न्यू रूल्स 2022

Spread the love

t20 रूल्स चेंज – आई सी सी ने 2022 की शुरुआत में ही t20 क्रिकेट रूल्स में बदलाव किया है और कुछ खास तथा बेहद दमदार नियम शामिल किए हैं जिसकी बदौलत निश्चित रूप से आने वाले t20 क्रिकेट टूर्नामेंट्स के स्लो ओवर रेट में तबदीली होगी और सभी टीमें सही समय पर अपने ओवर पूरे करेंगी। चलिए समझते हैं आई सी सी t20 न्यू रूल्स 2022 क्या हैं और कौन से t20 रूल्स चेंज हुए हैं।

आई सी सी t20 न्यू रूल्स 2022

न्यू रूल्स इन t20 – आई सी सी के नए नियम के तहत सबसे अच्छी बात यह है की पैनल्टी मैच के दौरान ही लगेगी ना की मैच पूरा होने के बाद।

कौन से नियम में हुआ बदलाव – t20 मैच वन इन्निंग्स टाइम है 90 मिनट और यदि बोलिंग टीम सही समय पर अपना 20वा ओवर शुरू नहीं कर पाती है तो उस टीम पर उसी समय पेनल्टी लगेगी और उन्हें उसी वक्त 30 गज के दायरे में 4 की बजाए 5 खिलाडी रखने होंगे, इसे एक उदाहरण से समझते हैं ताकि आपको नियम स्पष्ट हो जाए।

t20 न्यू रूल 2022 उदाहरण – यदि बॉलिंग टीम को 11:25 बजे तक अपना 20 वा ओवर शुरू कर देना हो और वे लेट हो जाएं अर्थात मैच टाइमिंग के हिसाब से 11:25 पर 20वा ओवर शुरू हो जाना चाहिए तो ऐसी सूरत में बॉलिंग टीम को 30 गज में एक अतिरिक्त खिलाडी उसी समय रखना होगा यानि बॉउंड्री के किसी हिस्से में एक खिलाडी की कमी हो जाएगी। सबसे अहम बात यह है की भले ही उस समय 18वा या 17वा ओवर ही क्यों ना चल रहा हो फील्डिंग टीम को 30 गज सर्कल में तत्काल एक अतिरिक्त फील्डर रखना होगा अर्थात तय समय पे आखरी ओवर शुरू ना होने पर उसके बाद जितने भी ओवर डालने होंगे उन सभी ओवरस् में 4 के बदले 5 खिलाडी 30 गज सर्कल के भीतर खड़े होंगे।

नोट – ध्यान रहे नियम के हिसाब से 20वा ओवर समय पर शुरू ना होने की बात कही जा रही है।

इस नियम से पहले होता यह था की बॉलिंग टीम के कप्तान की कुछ परसेंट फीस काटी जाती थी या किसी खिलाडी को 1 मैच के लिए बैन कर दिया जाता था जिसका खिलाडियों पर कुछ खास असर नहीं हो रहा था और t20 मैच में अक्सर स्लो ओवर रेट का असर दिख रहा था। उम्मीद है इस नए क्रन्तिकारी नियम के आने से स्लो ओवर रेट में काफी सुधार देखने को मिलेगा।

आई सी सी t20 रूल्स चेंज होने के फायदे

क्रिकेट रूल्स – आई सी सी t20 न्यू रूल्स के यूँ तो क्रिकेट को अनेक फायदे हुए हैं और क्रिकेट में काफी सुधर भी आया है। किन्तु इस क्रिकेट के लेटेस्ट रूल से निश्चित ही समय की बचत होगी जिससे ना केवल खिलाडियों, क्रिकेट स्टाफ, क्रिकेट कमेंटेटर्स, सपोर्टिंग स्टाफ का फायदा होगा बल्कि क्रिकेट फैंस का भी फायदा होगा क्योंकि जो मैच 3 घंटे में खत्म हो जाना चाहिए था कई बार उसे 4 घंटे तक लग जाते थे जिससे फैंस को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। उम्मीद है की यह नया रूल क्रिकेट के सभी फोर्मट्स में जल्द ही लागू हो जाएगा और खास तौर पर आईपीएल में। क्योंकि आईपीएल के कई मैच 8 बजे तक शुरू होते हैं और देर रात तक चलते हैं जिससे दर्शकों को घर वापस लौटने में काफी परेशानी होती है और मैच अधिक देर से खत्म होने पर परेशानी और बढ़ जाती है यदि मैच सही समय पर खत्म होगा तो फैंस की भी परेशानी कम होंगी क्योंकि उन्हें भी अगली सुबह अपने ऑफिस, स्कूल, कॉलेज या किसी अन्य काम पर जाना होता है।

क्रिकेट के नियम हेतु सुझाव

क्रिकेट न्यू रूल्स – बॉलिंग टीम के लिए तो नियम बन गया लेकिन यदि देरी बैटिंग टीम की वजह से हो तो उसके लिए क्रिकेट के नियम क्या है या यदि कोई नियम नहीं है तो किस प्रकार का नियम बन सकता है।

सुझाव – यदि मैच शुरू होने पर कोई भी बल्लेबाज़ देरी से ग्राउंड में प्रवेश करता है और इसके आलावा विकेट गिरने पर दूसरा बल्लेबाज़ सही समय पर बैटिंग क्रीज़ पर नहीं पहुँच पाता है तो बॉलिंग टीम को मौका मिलना चाहिए की वे जितना टाइम बल्लेबाज़ ने ख़राब किया है उतना टाइम बॉलिंग टीम को मिले जिसमे वे मैदान के किसी भी हिस्से से 1 खिलाडी हटा के अपनी इच्छा अनुसार किसी भी समय कहीं भी लगा सके। चलिए इसे समझते हैं एक उदाहरण से –

उदाहरण – यदि रोहित शर्मा ग्राउंड पर 5 मिनट की देरी से पहुँचते हैं फिर भले ही उनके साथी बल्लेबाज़ ग्राउंड पर पहुँच चुके हों तो विपक्षी टीम को ये 5 मिनट मिल जाएंगे। और यदि किसी खिलाडी के आउट होने पर कोई भी बल्लेबाज़ 3 मिनट की देरी से पहुँचता है तो विपक्षी टीम के पास कुल 8 मिनट हो जाएंगे जिसे वे एक साथ या देरी होने के तुरंत बाद भी इस्तेमाल कर सकते हैं। अब विपक्षी टीम चाहती है की 18वे या 19वे ओवर में वो 8 मिनट की पेनल्टी इस्तेमाल करें तो वे 30 गज सर्किल में 4 खिलाडियों की बजाए 3 खिलाडी खड़े कर सके और 1 खिलाडी को अपने हिसाब से ग्राउंड के किसी भी हिस्से में और सबसे अहम् मैच के किसी भी समय उन 8 मिन्ट्स के लिए लगा सकें।

8 मिनट का हिसाब – जब गेंद सीमा रेखा के बहार हो तो 8 मिनट के समय को ना काउंट किया जाए, जितने मिनट उतनी गेंदों की पैनल्टी यानि 8 मिनट की देरी पर किसी खिलाडी को आठ गेंदों के लिए मनचाही जगह पर मैच के किसी भी समय पर शिफ्ट किया जा सके।

यदि आपके पास भी क्रिकेट के नियम हेतु कोई सुझाव है तो कमेंट कर ज़रूर अपनी राय बताएं।

ये भी पढ़ें


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top
यॉर्कर बॉल कैसे खेला जाता है आई सी सी महिला वर्ल्ड कप 2022 शेडूल अंडर 19 क्रिकेट वर्ल्ड कप 2022 भारतीय दस्ता इरफ़ान पठान बने पिता दोबारा जो रुट ने सचिन का रिकॉर्ड तोडा