क्रिकेट का भगवान कौन है

Spread the love

हु इज द गॉड ऑफ क्रिकेट यानी क्रिकेट का भगवान कौन है? जी हां आपके इस लेख में मैं आपसे साझा करूंगा कि क्रिकेट का भगवान कौन है और उन्हें क्रिकेट का भगवान क्यों माना जाता है।

सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्ड के बारे में हम सब बहुत अच्छी तरह से जानते हैं इसलिए इस लेख में मैं आपका ध्यान उनके रिकॉर्ड के बजाय सचिन से जुड़ी कुछ ऐसी बातों पर लाना चाहता हूं जो उन्हें क्रिकेट का भगवान बनाती है।

क्रिकेट का भगवान कौन है 

क्रिकेट का भगवान कौन है या इसे अंग्रेजी में कुछ यूं कह लीजिए हु इज द गॉड ऑफ क्रिकेट? उम्मीद है इसका जवाब आप सबको मालूम है यदि नहीं मालूम तो बता दूं कि क्रिकेट का भगवान कोई और नहीं बल्कि मास्टर ब्लास्टर के नाम से जाने जाने वाले महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर है। 

सचिन तेंदुलकर एक सरल स्वभाव के असाधारण इंसान है जिन्होंने पूरे विश्व में अपना नाम एक महान खिलाड़ी के रूप में बनाया है। 

सर डॉन ब्रैडमैन भी सचिन के कायल  

जबसे क्रिकेट का जन्म हुआ तब से लेकर अब तक यदि किसी बल्लेबाज का एवरेज 99 का रहा तो  वे थे ऑस्ट्रेलिया के सर डॉन ब्रैडमैन।  जी हां सर डॉन ब्रैडमैन की तारीफ में कुछ शब्द कहना भी मुश्किल लगता है क्योंकि जब कोई बल्लेबाज ने में नबी की औसत से बल्लेबाजी करें वह भी पूरी खेल कैरियर में तो उस खिलाड़ी को हम सिर्फ महान कह सकते हैं और सलूक मार सकते हैं। पर आप जानते हैं यही सर डॉन ब्रैडमैन भी सचिन तेंदुलकर  की बल्लेबाजी के मुरीद हो गए थे और उन्होंने सचिन को अपने घर पर फास्ट पर भी बुलाया था।

ये उन दिनों की बात है जब सचिन तेंदुलकर अपनी बल्लेबाजी के शिखर पर थे। सर डॉन ब्रैडमैन ने सचिन के बारे में यह कहा था कि सचिन तेंदुलकर जिस तरह से बल्लेबाजी करते हैं उन्हें देखकर मुझे अपनी बल्लेबाजी याद आती है और ऐसा लगता है मानो मैं शीशा देख रहा हूं और मैं ही खेल रहा हूं। 

बेहद बड़ा है सचिन का “औरा”

sachin tendulkar age

सचिन तेंदुलकर ना सिर्फ अपने रिकॉर्ड के लिए जाने जाते हैं बल्कि सारे क्रिकेट फैन एवं खिलाड़ी उनकि तहे दिल से रिस्पेक्ट करते हैं। 

“औरा” कोई मामूली शब्द नहीं है देखने में यह बहुत छोटा शब्द है लेकिन इसका प्रभाव बेहद बड़ा और बेहद दूर तक जाता है।  हर किसी इंसान का अलग अलग और होता है और अधिकांश लोगों के और एक छोटे होते हैं तथा इस दुनिया में कुछ ही लोग ऐसे होते हैं जिनका औरा बेहद बड़ा होता है।  और जिसका औरा बड़ा होता है लोग उसे बड़े ध्यान से सुनते हैं तथा उसकी ओर खींचते चले आते हैं और उसकी हर बात पर विश्वास करते हैं। 

हाल ही में रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज का समापन हुआ। उत्तराखंड देहरादून के रायपुर स्टेडियम में पहली बार कोई पड़ा मैच हो रहा था और मैं भी इंडिया लाजिट्स का मैच देखने अपने परिवार के कुछ सदस्य के साथ रायपुर स्टेडियम पहुंचा। मैच इंडिया और बांग्लादेश के बीच था किंतु अफसोस बारिश ने मैच धो डाला। और हमारी तरह बाकी सब ने भी सचिन को केवल फील्डिंग करते देखा बल्लेबाजी के लिए भी नहीं आए।  

मैं वह मैच सिर्फ सचिन की वजह से देखने गया था, मेरे परिवार के अन्य सदस्य भी सचिन का ही नाम ले रहे थे। और जब हम स्टेडियम पहुंचे तो हर व्यक्ति की जुबां पर केवल एक नाम था और वह था सचिन सचिन!  मुझे अच्छी तरह से याद है जब मैच देखने से पहले हम एक होटल मैं रूम बुक करने गए थे ताकि जब मैच देर रात खत्म हो तो वहां ठहर सके। 

जब मैं होटल के मालिक से बात कर रहा था और उन्हें यह बता रहा था कि मैं यहां सचिन का मैच देखने आया हूं तो उस व्यक्ति ने मुझसे कहा कि यह सचिन का औरा ही है जो लोगों को यहां खींच रहा है।

और आप ऐसे पहले नहीं है आपसे पहले भी हमारे होटल में भीड़ इकट्ठा हुई और वह सब यही कहते हुए आए हैं कि हम सचिन का मैच देखना है। जबकि इंडिया लेजेंड में सचिन के अलावा युवराज सिंह, सुरेश रैना जैसे दिग्गज भी खेल रहे थे किंतु स्टेडियम की अधिकांश भीड़ सिर्फ सचिन का नाम ले रही थी। होटल के मालिक ने कहा कि केवल सचिन ही है जो 50 की उम्र में भी इतनी बड़ी भीड़ इकट्ठा कर सकते हैं  यह उनका ‘औरा’ है जो अपने आप में  बेहद बड़ा है।

हम सब जानते हैं सचिन तेंदुलकर एक महान खिलाड़ी है और सचिन को क्रिकेट का भगवान कहा जाता है। सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट छोड़े हुए कई वर्ष हो चुके हैं किंतु उनके बारे में अभी भी गूगल में काफी ज्यादा सर्च होते हैं क्योंकि लोग उन्हें जानना चाहते हैं और भी अधिक समझना चाहते हैं कि सचिन अब क्या कर रहे होंगे। 

सचिन जितने बड़े खिलाड़ी हैं उतने ही सरल इंसान भी हैं और इस बात का खुलासा कई बार उनके साथी खिलाड़ियों ने किया है। सचिन के साथ कई मैचों में ओपनिंग करने का सौभाग्य प्राप्त कर चुके ताबड़तोड़ धांसू बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने कई बार सचिन की सरलता का विश्लेषण किया है। 

नवजोत सिंह सिद्धू ने बताया सचिन का किस्सा

जाने-माने खिलाड़ी और सांसद रह चुके हैं नवजोत सिंह सिद्धू ने कई बार टेलीविजन पर बताया है कि एक बार वह एक शो में गए थे जहां पर उन्होंने देखा कि कई सारे खिलाड़ियों के नाम लेकर उस शो के ऑर्गेनाइजर उन्हें बधाई दे रहे थे। दरअसल शो गरीब और पिछड़े वर्ग की मदद के लिए था जिसमें  कई खिलाड़ियों और कलाकारों ने हिस्सा लिया था। शो के होस्ट हर खिलाड़ी और कलाकार का नाम लेकर माइक पर अनाउंस कर रहे थे कि इन्होंने मदद के लिए इतनी धनराशि दी है। 

जब कई खिलाड़ियों का नाम शो के ऑर्गेनाइजर ले चुके थे किंतु सचिन का नाम ना आने पर वहां बैठे नवजोत सिंह सिद्धू को कुछ हैरानी हुई। सिद्धू ने बताया कि वे सचिन को अच्छी तरह से जानते थे और सचिन हमेशा मदद के लिए आगे रहते हैं। सिद्धू ने कई बार सचिन से पूछने की कोशिश की कि तुमने कितने पैसे डोनेट किया है किंतु सचिन ने मुस्कुरा कर उनकी बात को हर बार टाल दिया। काफी देर तक सचिन का नाम ना आने पर सिद्धू कुछ बेचैन से हो गए और शो खत्म होते ही उनसे रहा नहीं गया तथा वे सीधे शो के मालिक से जाकर मिले।  

सिद्धू ने शो के मालिक से पूछा कि आपने गलती से सचिन का नाम स्टेज पर नहीं पुकारा या फिर कुछ और वजह है। शुरू में शो के मालिक ने सिद्धू को कुछ भी बताने से मना कर दिया किंतु सिद्धू भी कहां पीछे हटने वाले थे और उनके जोर देने पर आखिरकार शो के मालिक ने सिद्धू को सच बताया। 

शो के मालिक ने नवजोत को बताया कि सचिन ने उनसे शर्त रखी थी कि वह एक ही शर्त पर पैसे डोनेट करेंगे और वह शर्त थी कि स्टेज पर उनका नाम ना पुकारा जाए वे चुपचाप डोनेशन करना चाहते हैं। सुनकर सिद्धू का सीना और भी चौड़ा हो गया और वे सचिन पर पहले से ज्यादा गर्व महसूस करने लगे।

जब शेन वॉर्न को आने लगे थे सचिन के सपने

सबसे पहले दिग्गज गेंदबाज शेन वॉर्न को हमारा नमन। महान लेग स्पिन गेंदबाज शेन वॉर्न जिनके बारे में यह कहा जाता है कि वे शीशे पर भी स्पिन करा सकते हैं। जब उन्होंने यह बताया कि सचिन तेंदुलकर ने कुछ मैचों में आगे बढ़ बढ़ कर उनकी गेंदों पर इस तरह से छक्के टांगे है कि उन्हें अगली रात नींद नहीं आई और नींद में भी सचिन आगे बढ़ बढ़ कर उनकी गेंदों पर छक्के लगा रहे थे। यह बात साफ दिल शेन वॉर्न ने मीडिया के सामने कई बार कही। आपको बता दूं कि शेन वॉर्न और सचिन तेंदुलकर बेहद गहरे दोस्त रह चुके हैं और दोनों एक दूसरे की रिस्पेक्ट करते हैं। 

सचिन के रिकॉर्ड

सचिन के रिकॉर्ड दर्जा देते हैं सचिन को क्रिकेट के भगवान का। यदि  क्रिकेट के आंकड़ों की बात की जाए तो सचिन से आगे ना कोई निकल पाया है ना कोई निकलता दिख रहा है। सचिन ने इतने रिकॉर्ड बना डाले हैं की उन सब को तोड़ पाना अगले कई दशकों तक नामुमकिन सा दिखता है।  

पूरे विश्व की क्रिकेट गलियों को छान मारने पर सचिन तेंदुलकर इकलौते बल्लेबाज मिलते हैं जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 100 शतकों का जादुई आंकड़ा अपने नाम किया है। सचिन वह बल्लेबाज हैं जिन्होंने न सिर्फ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कारनामे किए हैं बल्कि डोमेस्टिक क्रिकेट में भी उन्होंने रनों और शतकों का अंबार लगाया है। सचिन ने एकदिवसीय क्रिकेट में 49 शतक लगाए हैं तथा टेस्ट मैचों में 51 शतक बनाकर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 100 शतकों का कारनामा पूरा किया।

हमने अक्सर खिलाड़ियों के आपस में मतभेद सुने हैं और देखे हैं और क्रिकेट भी इन सब बातों से अछूता नहीं है किंतु क्रिकेट में एक ऐसा खिलाड़ी भी है जो इन सब बातों से काफी ऊपर है और हर क्रिकेटर चाहे पुराना हो या नया खिलाड़ी हो इस खिलाड़ी की दिल से इज्जत करता है और इस खिलाड़ी का नाम सचिन तेंदुलकर है।

सचिन सचिन तेंदुलकर रिकॉर्ड्स अंतरराष्ट्रीय

फॉर्मेटमैचरंस हाईएस्ट   एवरेज100s50s
लिस्ट ए 551538200*45.5460114
एफ सी31025,396248*57.8481116
टेस्ट क्रिकेट20015,921248*53.785168
एक दिवसीय 46318,426200*44.834996
टी20 अंतरराष्ट्रीय011010100000
 टी20962797100*32.900116

सचिन और क्रिकेट के बारे में पूछे गए प्रश्न उत्तर

सचिन अपना 100वां शतक किस देश के खिलाफ लगाया था?

सचिन ने अपना 100वां शतक बांग्लादेश के खिलाफ पूरा किया था।

सर डॉन ब्रेडमैन ने सचिन तेंदुलकर के बारे में क्या कहा था?

सर डॉन ब्रैडमैन ने कहा था कि जब सचिन बल्लेबाजी करते हैं तो मैं अपने आपको सचिन में देखता हूं।

क्रिकेट का भगवान किसे कहा जाता है?

भारत के पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट का भगवान कहा जाता है।

क्रिकेट का डैडी किसे माना जाता है?

विलियम गिलबर्ट ग्रेस को क्रिकेट का डैडी माना जाता है।

भारत में क्रिकेट का डैडी किसे माना जाता है?

रंजीत सिंहजी विभाजी।

यह भी पढ़ें 

सचिन तेंदुलकर की कहानी


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top
यॉर्कर बॉल कैसे खेला जाता है आई सी सी महिला वर्ल्ड कप 2022 शेडूल अंडर 19 क्रिकेट वर्ल्ड कप 2022 भारतीय दस्ता इरफ़ान पठान बने पिता दोबारा जो रुट ने सचिन का रिकॉर्ड तोडा