हाथ घुमाकर बोलिंग कैसे करें 

Spread the love

यदि आप एक तेज गेंदबाज बनना चाहते हैं किंतु समझ नहीं आ रहा कि हाथ घुमाकर बोलिंग कैसे करें तो चिंता ना करें, इस आर्टिकल को अंत तक ध्यान से पढ़ें और हाथ घुमा कर बॉलिंग करना सीखें। इस आर्टिकल में यह बताया गया है कि हम अपना बॉलिंग एक्शन कैसे सुधार सकते हैं और हाथ घुमाकर बोलिंग कैसे करते हैं।

हाथ घुमाकर गेंदबाजी कैसे करें – वैसे तो हाथ घुमाकर  गेंदबाजी करना कोई खास मुश्किल नहीं है किंतु एक बार भट्टा बोलिंग की आदत पड़ गई तो सुधारना काफी मुश्किल हो जाता है। 

थ्रो बॉल करना किसे कहते हैं

भट्टा गेंदबाजी को थ्रो बॉल कहते हैं, जब एक गेंदबाज बिना पूरी तरह से हाथ घुमाए गेंदबाजी करता है अर्थात  जब गेंदबाज 15 डिग्री से अधिक अपनी कोहनी मोडता है तो अंपायर उस गेंद को थ्रो बॉल करार देता है। थ्रो गेंद करते वक्त गेंदबाज की कोनी निश्चित एंगल से अधिक मुड़ जाती है परिणाम स्वरूप वह गेंद थ्रो बॉल या भट्टा बॉल कहलाती है। हालांकि गेंदबाज अपनी गेंदबाजी के दौरान कलाई का इस्तेमाल कर सकता है और कलाई को झटक भी सकता है किंतु कोनी को झटकने का मतलब भट्टा बॉल होता है। यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आ रहा है तो ऐसे ही पढ़ते रहे।

भट्टा बोलिंग या थ्रो बॉल करने की वजह

शुरुआती दौर – भट्टा बोलिंग करने की अलग-अलग वजह हो सकती है।  जो पहली बार करता है तो वह भट्टा बोलिंग  से ही शुरु करता है अतः इसमें घबराने की बात नहीं,  अगर आप भी  गेंदबाजी करना सीख रहे हैं तो शुरू में आपकी भी थ्रो बॉल ही जाएगी किंतु प्रैक्टिस के साथ आपके एक्शन में सुधार होता चला जाएगा, अतः प्रैक्टिस जारी रखें।

गति बढ़ाने के चक्कर में – हर फास्ट बॉलर अपनी गति बढ़ाना चाहता है और कई बार गति बढ़ाने के चक्कर में वह अपने एक्शन पर ध्यान नहीं देता है तथा अधिक पेस जनरेट करने के लिए कोनी को दिए गए मापदंड से अधिक मोड़ता है जिससे उसे थोड़ा अधिक पेस तो मिलता है किंतु उसका एक्शन खराब हो जाता है और थ्रो  गेंदबाजी में तब्दील हो जाता है जिसका गेंदबाज को पता भी नहीं चलता है। इसलिए जरूरी है कि अपने एक्शन का ध्यान लगातार रखें  और जब भी अपने  बॉलिंग एक्शन में कोई बदलाव लाएं तो अपने साथी से जरूर पूछे कि आपके एक्शन में कुछ ज्यादा बदलाव तो नहीं हो गया या फिर आप अपने एक्शन की वीडियो बनाकर स्वयं ही अपने बॉलिंग एक्शन को समय-समय पर चेक करते रहें।

 गलत रनअप – यह गलती अक्सर गली क्रिकेट खेलते वक्त होती है जब गेंदबाज आलस या समय बचाने के लिए छोटा सा रनअप लेता है और अधिक पेस जनरेट करने की कोशिश करता है। ऐसा करते वक्त अधिक पेस जनरेट करने की कोशिश में गेंदबाज की कोनी 15 डिग्री से ज्यादा मुड़ने लगती है और उसका एक्शन थ्रो बॉल में तब्दील होने लगता है जिसका पता उसे काफी समय बाद चलता है। आपको हमारा आर्टिकल पढ़ने में मजा आ रहा है तो पढ़ते रहे।

हाथ घुमाकर बोलिंग कैसे करें

girl cricketer

हाथ घुमाकर गेंदबाजी करने के लिए आपको बेसिक्  स्टेप्स को फॉलो करना होगा।

तेज बोलिंग ना करें – सबसे पहले तो आपको गति से किनारा कर लेना है अर्थात तेज गेंदबाजी करने की ओर ध्यान नहीं देना है भले ही आप की गेंद कितनी भी स्लो हो आपको फेस बढ़ाने के बारे में नहीं सोचना है बल्कि सिर्फ हाथ घुमाकर गेंदबाजी करने पर ही ध्यान केंद्रित रखना है। 

बॉलिंग स्पीड कैसे बढ़ाएं प्रो टिप्स

वाइड गेंद जाने दे – लाइन लेंथ के बारे में न सोचे  यदि आप की गेंद वाइड जाती है या फिर शॉर्ट  गिरती है या अधिक लंबी गिरती है, आपको गेंद की लाइन लेंथ के बारे में नहीं सोचना है बल्कि अपना पूरा ध्यान हाथ घुमा कर गेंदबाजी करने पर ही लगाना है। एक बार जब आप हाथ घुमा कर गेंदबाजी करना सीख जाएंगे उसके बाद आप लाइन लेंथ के बारे में सोच विचार कर सकते हैं। 

सही रनअप रखें – आपको पहले दिन से ही एक निश्चित रनअप लेना है और प्रतिदिन इस रनअप का अभ्यास करना है। रनअप का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि आपकी पूरी बॉडी का इस्तेमाल होता है और हाथ घुमाकर गेंदबाजी करना आसान पड़ता है। 

दोनों हाथों का इस्तेमाल करें – एक अच्छा गेंदबाज अक्सर अपने दोनों हाथों का बेहतरीन इस्तेमाल करता है। अपने नॉन बोलिंग आर्म को अपने माथे के आस पास रखने की कोशिश करें और जैसे ही आपका बॉलिंग आर्म नीचे की ओर जाएगा उसी समय नॉन बॉलिंग आर्म ऊपर की ओर जाता है। और जब आपका बॉलिंग आर्म पीछे से ऊपर की ओर जाता है तो उसी समय आपका नॉन बॉलिंग आर्म नीचे की ओर आना चाहिए यह पूरी प्रक्रिया साइकिल के पेडल के समान कार्य करती है। बॉलिंग आर्म का सही इस्तेमाल होने पर गेंदबाजी की स्पीड भी बढ़ाई जा सकती है यानी जितनी तेजी से आपका नॉन बॉलिंग आर्म नीचे की ओर आएगा आपको बॉलिंग स्पीड बढ़ाने में मदद मिलेगी।

हाथ घुमाकर बॉलिंग करने के ड्रिल

शैडो बोलिंग  प्रैक्टिस, वॉल बोलिंग प्रैक्टिस

शैडो बोलिंग –  इस प्रक्रिया के अंतर्गत आप अपनी परछाई को देखकर बॉलिंग प्रैक्टिस करते हो अर्थात एक जगह पर खड़े होकर बॉलिंग एक्शन को कंप्लीट करना  होता है इसमें आपको दौड़ने की जरूरत नहीं होती है बल्कि पूरा ध्यान अपने बॉलिंग एक्शन को कंप्लीट करने पर होता है। ऐसा आपको 1 दिन में 30 से 40 बार करना है जिससे जल्द ही आपको हाथ घुमाकर बॉलिंग करने की आदत पड़ जाएगी।

वॉल बोलिंग प्रैक्टिस – इस प्रैक्टिस प्रक्रिया में आपको एक दीवार के सामने खड़े हो जाना है तथा एक पुरानी  गेंद ले और हो सके तो अच्छे रनअप के साथ दीवार पर गेंदबाजी का अभ्यास करें जिससे आपको किसी अन्य खिलाड़ी की आवश्यकता भी नहीं पड़ेगी और अकेले रहने पर भी आप प्रैक्टिस कर पाएंगे। आपको यह क्रिकेट बॉलिंग से संबंधित आर्टिकल पसंद आ रहा है तो अंत तक पढ़े।

faq

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में किन गेंदबाजों के एक्शन की जांच हुई है?

महान ऑफ स्पिन गेंदबाज़ मुथैया मुरलीधरन, मिस्ट्री स्पिनर सुनील नारायण तथा यारकर किंग मलिंगा जैसे दिग्गज गेंदबाजों के एक्शन की जांच हुई है।

इनमें से किस गेंदबाज का एक्शन संदेह के घेरे में रहता था?
शोएब अख्तर, ब्रेट ली, ग्लेन मैकग्रैथ, अनिल कुंबले, शेन बांड

पाकिस्तान के खतरनाक तेज गेंदबाज शोएब अख्तर का बॉलिंग एक्शन हमेशा संदेह के घेर  में रहता था।

रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से कौन सा गेंदबाज जाना जाता है?

तूफानी गेंदबाज शोएब अख्तर क्रिकेट जगत में रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से मशहूर है।

किस गेंदबाज के बारे में यह कहा जाता है कि वे एक सिक्के पर भी लगातार छह गेंद डाल सकते हैं?

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ग्लेन मैकग्रैथ अपनी सटीक लाइन और लेंथ के लिए जाने जाते हैं और उनके बारे में यह कहा जाता रहा है कि वह एक सिक्के पर भी लगातार छह गेंद डाल सकते हैं।

किस गेंदबाज ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर को सबसे ज्यादा परेशान किया है?

अपनी जबरदस्त लाइन और लेंथ से ऑस्ट्रेलिया के पूर्व महान गेंदबाज ग्लेन मैकग्रा ने सचिन जैसे लीजेंडरी बल्लेबाज को भी अपनी धुन पर नचाया है।

यह भी पढ़ें

बॉलिंग स्पीड कैसे बढ़ाएं प्रो टिप्स

ऑफ स्पिन, लेग स्पिन और गूगली बोलिंग कैसे करें

बॉलिंग स्पीड कैसे चेक करें


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top
यॉर्कर बॉल कैसे खेला जाता है आई सी सी महिला वर्ल्ड कप 2022 शेडूल अंडर 19 क्रिकेट वर्ल्ड कप 2022 भारतीय दस्ता इरफ़ान पठान बने पिता दोबारा जो रुट ने सचिन का रिकॉर्ड तोडा