यॉर्कर बॉल कैसे डालें बुमराह जैसी 5 स्टेप्स में सीखें

leather ball
Spread the love

यॉर्कर बॉल कैसे करें, यॉर्कर बॉल कैसे डाला जाता है, यॉर्कर बॉल गृप कैसे की जाती है या फिर यॉर्कर बॉल कैसे करते हैं यदि आपको भी इन सभी सवालों ने परेशां किया हुआ है तो आज हम आपको इन सवालों के जवाब देंगे और उम्मीद करते हैं की इन जवाबों को आप सही तरीके से प्रैक्टिस करोगे और अपनी यॉर्कर बॉल डालने की स्किल सुधारोगे।

यॉर्कर बॉल क्या होती है

 हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़े

यॉर्कर बोलिंग कैसे करते हैं टिप्स – यॉर्कर बॉल एक फुल लेंथ गेंद होती है जो हवा में अपना सफर तय करते हुए सीधे बल्लेबाज़ के पैरों के पास गिरती है। यह गेंद पिच पर टिप नहीं खाती बल्कि बल्लेबाज़ के जूतों और बल्ले के बीच टिप खाती है जहाँ से बल्लेबाज़ को हाथ खोलने का मौका नहीं मिलता है और यही गेंद परफेक्ट यॉर्कर गेंद कहलाती है।

यॉर्कर बॉल एक फुल लेंथ डिलीवरी होती है जिसे बल्लेबाज़ के पैरों का निशाना साधते हुए फेंका जाता है। जब गेंद बल्लेबाज़ के जूतों के बिलकुल नज़दीक गिरती है तो बल्लेबाज़ को उस गेंद को खेलने में काफी कठिनाई होती है और जब बल्लेबाज़ शॉट खेलने की कोशिश करता है तो इस गेंद पर गेंदबाज़ को विकेट मिलने के चांस अधिक होते हैं।

बुमराह की तरह यॉर्कर कैसे डालें

  • यॉर्कर बोलिंग टिप्स – आज की तारीख में शायद ही बुमराह की तरह कोई परफेक्ट यॉर्कर कर सकता है। जब कोई गेंदबाज़ मैच के किसी भी पड़ाव में नयी या पुरानी गेंद से अपने मन मुताबिक किसी भी समय यॉर्कर फेंक दे तो उसे जीनियस गेंदबाज़ कहते हैं और आज बुमराह एक जीनियस गेंदबाज़ हैं, चलिए जानते हैं वे कैसे यॉर्कर इतनी सटीक फेंक पाते हैं।
  • बुमराह बॉलिंग एक्शन – सबसे पहले तो बुमराह का एक्शन देखिये वे एक ओपन चेस्टेड एक्शन वाले गेंदबाज़ हैं जो उनको यॉर्कर गेंद डालने में मदद करता है।
  • बुमराह बॉलिंग यॉर्कर – उनका बॉलिंग आर्म कान के काफी नज़दीक से निकलता है जो यॉर्कर को सही दिशा देता है।
  • बुमराह बोलिंग रनअप – उनका बॉलिंग रनअप काफी स्मूथ है वे कभी अपना रनअप नहीं खोते हैं हालांकि उनका रनअप उतना लम्बा नहीं है पर इसके बावजूद बुमरा सटीक और तेज़ यॉर्कर डालने में कामयाब होते हैं।
  • बुमरा बोलिंग स्पीड – बुमरा की बॉलिंग स्पीड 140 – 145 किलोमीटर पर ऑवर है जो की काफी तेज़ है। इतने कम रनअप से इतनी तेज़ गेंदबाज़ी करने के लिए आपको कंधे का अच्छा इस्तेमाल करना होता है।

इंजरी इन क्रिकेट – हालाँकि बुमराह के एक्शन से कमर को हमेशा खतरा बना रहता है क्योंकि उनका ओपन चेस्टेड एक्शन है जिसमे कमर का अच्छा इस्तेमाल होता है और इंजरी का भी खतरा होता है। यदि एक बार कमर की चोट लगी तो वह बार बार लौटने के चांस बने रहते हैं इसके लिए ज़रूरी है की नियमित रूप से एक्सरसाइज और खास तौर पर कमर को मज़बूती प्रदान करने वाली एक्सरसाइज की जाए। यदि आप भी ओपन चेस्टेड गेंदबाज़ हैं और यह सोच रहे हैं की फ़ास्ट बॉलिंग स्पीड कैसे बढ़ाएं तो इस लिंक पर क्लिक करें बॉलिंग स्पीड बढ़ाने के तरीके और आपके सामने बॉलिंग स्पीड बढ़ाने की जानकारी आ जाएगी।

यॉर्कर बॉल कैसे डालें

  • यॉर्कर बॉल कैसे डालते हैं – सबसे पहले तो आपको यॉर्कर बॉल डालने की तकनीक पता होनी चाहिए, चलिए समझते हैं सटीक यॉर्कर बॉल कैसे डालें।
  • यॉर्कर बॉल तकनीक – यॉर्कर बोल और शॉट पिच बोल दोनों की तकनीक एक दूजे से बिलकुल अलग है या यूँ कह लीजिए बिलकुल उलट है, यॉर्कर बॉल डालने के लिए आपको गेंद को जल्दी रिलीज़ करना होता है।
  • यानी की जब बॉलिंग आर्म सर के ऊपर से 35-40° आ जाए तो उसी वक्त गेंद रिलीज़ कर दें ज़्यादा देर से रिलीज़ करेंगे तो गेंद ओवर पिच या हल्की शॉट ऑफ़ लेंथ गिरेगी इसलिए यॉर्कर गेंद डालने के लिए रिलीज़ पॉइंट का खासा महत्व होता है। एक बात का विशेष ध्यान दें की यदि आप गेंद को 35-40 डिग्री की बजाए थोड़ा और ऊपर से छोड़ते हैं तो गेंद फुलटॉस गिर सकती है इसलिए यॉर्कर गेंद की लगातार प्रैक्टिस करें।

लूप बनाएं – लूप बॉलिंग का मतलब होता है ऐसी जगह से छोड़ी हुई गेंद जो बल्लेबाज़ के आई साइट के ऊपर से निचे की और आए ताकि बल्लेबाज़ को थोड़ा देर से गेंद दिखे और खेलने में परेशानी हो। यह भी रिलीज़ पॉइंट पर निर्भर करता है यदि आप 30-35 डिग्री से गेंद छोड़ने में कामयाब हुए तो यह गेंद एक लूप बना सकती है जिसे बल्लेबाज़ को खेलने में मुश्किल होगी पर यह गेंद भी अच्छी प्रैक्टिस के बाद ही मैच में करें क्योंकि इसमें फुल टॉस गिरने के अधिक चांस होते हैं और कई बार गेंदबाज़ बल्लेबाज़ के हेलमेट या कमर के ऊपर गेंद कर बैठता है जिस कारण उन्हें वार्निंग मिल जाती है।

यॉर्कर बॉल कैसे डाला जाता है

  • यॉर्कर बॉल गृप – बॉल को सही तरीके से गृप करें यानि सिलाई के ऊपर से अपनी ऊपर वाली दो उँगलियों को अंग्रेजी के वी (V) आकार में रखें और अंगूठे को बॉल के नीचे से सपोर्ट के लिए रखें
  • हथेली से दूर – ध्यान रहे बॉल आपकी हथेली पर टच ना होने पाए
  • निशाना – अब बल्लेबाज़ के पैरों का निशाना साधें
  • रन अप – रन अप लेते समय शुरू के दो से चार कदम थोड़ा हलके दौड़ें और आखिर के दो से चार कदमों में पूरी ताकत लगाएं
  • बॉल को फुल रखें – बॉल को फुल रखते हुए तेज़ी से बल्लेबाज़ के जूतों के नज़दीक फेंकने की कोशिश करें
  • रिलीज़ पॉइंट – सबसे महत्वपूर्ण है रिलीज़ का ख़ास ध्यान रखें और आपका हाथ सर के ऊपर से 35-40 डिग्री आ जाए तो रिलीज़ करें
  • रिस्ट वर्क – आखरी समय पर रिस्ट को नीचे की और झटकें
  • कन्धा लगाएं – अपने शोल्डर का इस्तेमाल भी करें यानि कन्धा और रिस्ट दोनों का इस्तेमाल करें

यॉर्कर बॉल कितने प्रकर की होती है

यॉर्कर बॉल के मुख्य प्रकार नीचे दिए गए हैं जो बल्लेबाज़ को मुश्किल में डाल सकते हैं

  • स्लो यॉर्कर
  • टो क्रशिंग यॉर्कर
  • वाइड यॉर्कर
  • स्विंगिंग यॉर्कर
  • आउट स्विंगिंग यॉर्कर
  • फ़ास्ट यॉर्कर
  • फ़ास्ट इनस्विंग यॉर्कर
yorker ball

बाउंसर बॉल कैसे डाला जाता है

बाउंसर बॉल कैसे डालते हैं – जैसे यॉर्कर गेंद डालने के लिए गेंद को जल्दी रिलीज़ करना पड़ता है वैसे ही बाउंसर या शॉट पिच गेंद करने के लिए गेंद को 45-50 डिग्री पर रिलीज़ करें यानी की जब बॉलिंग आर्म आधा रास्ता तय कर ले और आपकी आँखों से नीचे आ जाए तो गेंद को रिलीज़ कर दें। अच्छी और जानदार शॉट पिच गेंद डालने के लिए मज़बूत कलाई और ताकतवर कन्धा चाहिए इसलिए शॉर्टपिच गेंद पर महारत हांसिल करने के लिए रिस्ट और शोल्डर एक्सेर्साइज़ नियमित रूप से करें।

यॉर्कर बोलिंग कैसे करते हैं टिप्स

बल्लेबाज़ के लिए सबसे मुश्किल यॉर्कर बॉल कौन सी होती है?

क्रिकेट एक्सपर्ट्स द्वारा इनस्विंग यॉर्कर को खेलना सबसे कठिन माना जाता है।

यॉर्कर बॉल और बाउंसर बॉल में क्या अंतर होता है ?

यॉर्कर बॉल लम्बी गेंद यानि फुल लेंथ गेंद होती है जो बिना टिप्पा खाए बल्लेबाज़ के पैरों के पास जाकर गिरती है वहीँ दूसरी ओर बाउंसर बॉल आधी पिच पर ज़ोर से पटकी हुई गेंद होती है जो बल्लेबाज़ के हेलमेट या शोल्डर के पास से तेज़ी से गुज़रती है।

वाइड यॉर्कर कहाँ डाली जाती है?

वाइड यॉर्कर ऑफ स्टंप के बिलकुल बाहर वाइड के निशान के नज़दीक डाली जाती है जिसे लेग स्टंप पर शॉट खेलने वाले बल्लेबाज़ अक्सर मिस कर जाते हैं।

यॉर्कर बॉल डालने के लिए गेंद पकड़ने का तरीका बताएं?

यॉर्कर बॉल सीम से पकड़ी जाती है यानि सिलाई के ऊपर से दो उँगलियों को V आकार में रखना होता है और अंगूठे को नीचे से सपोर्ट के तौर पर रखा जाता है। इस गेंद को हथेली से दूर रखा जाता है तथा रिस्ट और आर्म को अपनी ओर खींचना होता है।

यॉर्कर बॉल कैसे खेला जाता है?

यॉर्कर बॉल कैसे खेलें – यॉर्कर बॉल खेलने के लिए निम्न बिंदुओं का पालन करें

1. अपने फ्रंट फुट को क्रॉस ना जाने दें।
2. बैटिंग स्टान्स में तब्दीली करते हुए हल्का सा ओपन चेस्टेड खड़े हों ऐसा करने से आपका फ्रंट फुट जल्दी क्रॉस नहीं जाएगा।
3. बल्ला सीधा रखें और कोशिश करें की किसी भी सूरत में क्रॉस बैट ना खेलें।
4. फ्रंट फुट पर पहले से ही ना जाएं।
5. बॉल को तेज़ मारने की कोशिश ना करें बल्कि सिर्फ ब्लॉक या पंच करें।

यॉर्कर बॉल कहाँ डाला जाता है?

यॉर्कर बॉल बल्लेबाज़ के जूतों के बिलकुल नज़दीक डाला जाता है ताकि बल्लेबाज़ को हाथ खोलने का मौका ना मिले। जो गेंद बल्लेबाज़ के जूतों और बल्ले के गैप के बीच बिलकुल लम्बी पड़ती है उस स्थान को ब्लॉक होल कहते हैं और जो यॉर्कर ब्लॉक होल में गिरती है उसे अनप्लेबल यॉर्कर माना जाता है जिसमें अक्सर बल्लेबाज़ धराशाई हो जाते हैं।

यॉर्कर बॉल कैसे डाला जाता है बताओ?

यॉर्कर बॉल डालने के लिए आपको इन 5 स्टेप्स को सीखना होगा
1. यॉर्कर बॉल गृप
2. स्मूथ रन अप
3. बॉल को फुल रखें
4. बॉल रिलीज़ पॉइंट
5. रिस्ट वर्क

ये भी पढ़ें

Join our telegram group – for Regular updates


Spread the love

1 thought on “यॉर्कर बॉल कैसे डालें बुमराह जैसी 5 स्टेप्स में सीखें”

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top
यॉर्कर बॉल कैसे खेला जाता है आई सी सी महिला वर्ल्ड कप 2022 शेडूल अंडर 19 क्रिकेट वर्ल्ड कप 2022 भारतीय दस्ता इरफ़ान पठान बने पिता दोबारा जो रुट ने सचिन का रिकॉर्ड तोडा