Best batting tips sachin tendulkar | batting practice at home

Spread the love

दोस्तों इस पोस्ट में हम जानेंगे बैटिंग प्रैक्टिस के कुछ नए तो कुछ पुराने तरीके और मैं क्रिकेट प्रैक्टिस के अपने पर्सनल अनुभव भी आपसे शेयर करूँगा और साथ ही आपको 5 बेहतरीन आल टाइम फेवरेट प्रैक्टिस ट्रिक्स से रूबरू कराऊंगा तो चलिए शुरू करते हैं सीखने व सिखाने का यह सिलसिला ।

Batting tips in hindi

 हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़े

cricket batting practice tips hindi – बैटिंग प्रैक्टिस के लिए यह ज़रूरी नहीं की बैटिंग प्रैक्टिस मशीन से ही हो या बैटिंग प्रैक्टिस नेट पर ही हो । यहाँ मशीन से मतलब बैटिंग प्रैक्टिस विद बोलिंग मशीन से है। बहरहाल, प्रैक्टिस करने के और भी कई सारे नायाब तरीके हैं बस आपको यह पूरा पोस्ट ध्यान से पढ़ने की ज़रुरत है और इस ब्लॉग पोस्ट के अंत में आप पायेंगे के आप काफी कुछ पहले से ही जानते थे पर कुछ नया भी आपने सीखा है ।

Top batting tips | cricket batting tips in hindi

दोस्तों महज़ जानकारी होने से कुछ खास फर्क नहीं पड़ता फर्क तो उस जानकारी को इम्प्लीमेंट करने से ही पड़ेगा अतः जो भी क्रिकेट बैटिंग टिप्स आपको यहाँ मिलेगी उसे सिर्फ एक बार नहीं बल्कि रेगुलर पूरे साल आज़माएँ।

और यदि आपको इस पोस्ट में दिए गए क्रिकेट बैटिंग प्रैक्टिस टिप्स पसंद आते हैं तो कमेंट कर बताएं और हम आपके लिए top 10 batting tips लेकर हाज़िर होंगे, यकीन मानिए यदि आप दिए गए बैटिंग टिप्स को सही तरीके से फॉलो करते हैं तो आप जल्द ही अपनी बल्लेबाज़ी में गज़ब का सुधार देखेंगे क्योंकि ये क्रिकेट टिप्स मात्र 1 महीने में बैटिंग सुधारने वाले टिप्स हैं।

Underarm cricket batting tips

हाफ पिच क्रिकेट खेलें (Play half pitch cricket – ballebazi tips)

बल्लेबाज़ी टिप्स- जब हम क्रिकेट खेलने की शुरुआत करते हैं तो हाफ पिच से ही करते हैं कई खिलाडी क्लब ज्वाइन करते ही इसे छोड़ देते हैं यह काफी गलत है क्योंकि हाफ पिच पर बल्लेबाजी करने से हमारी तकनीक सुधरती है महान बल्लेबाज़ सचिन और अब मॉडर्न मास्टर विराट कोहली हमेशा हाफ पिच पर प्रैक्टिस करते हैं यह एक अच्छा क्रिकेट बैटिंग टिप है।

1. इसमें पूरा हाथ घुमा कर गेंदबाज़ को बोलिंग नहीं करनी होती है एक छोटा सा सर्किल टाइप का फील्ड प्लेस्मेंट होता है और कोशिश करें की 1 टिप 1 हैंड आउट रखें ताकि आपकी बल्लेबाज़ी तकनीक में बॉल जज कर उसे छोड़ने की कला डेवलप हो सके।

2. यदि आप दो भाई या दो दोस्त हैं यानि केवल दो खिलाडी हैं तो ऐसे में दीवार का सहारा लेने की कोशिश करे जिससे आपकी विकेटकीपर की समस्या खत्म हो जाए। ख़ास टिप – एज आउट रखे यानी की बैट का किनारा लगने पर यदि गेंद दीवार पर लगती है तो आउट रखें । जैसे क्रिकेट मैच में स्लिप और गली लगती है वैसे ही कोई हल्का निशान दीवार पे लगाए और स्लिप पर आउट ज़रूर रखें। दोस्तों यह भले ही काफी सरल लग रहा हो पर आप स्लिप आउट ज़रूर रखें और जल्द ही आपकी तकनीक में अच्छा सुधार होगा

3. हाफ पिच पर – सिक्स मारना आउट रखें और केवल सिंगल्स, डबल्स और चौका ही रखें इससे आप की ग्राउंड शॉट खेलने की काबिलियत बढ़ेगी यदि मैच न चल रा हो तो फुल पिच पर भी आपस में ऐसे ही खेलें जिसमे सिक्स मारना आउट हो।

4. कोई भी नया शॉट मैच से पहले हाफ पिच पर प्रैक्टिस करें फिर फुल पिच पर और लास्ट में मैच में वह शॉट खेलें यह किसी भी नए शॉट पर मास्टरी करने का बेसिक तरीका है सचिन ने Shane Warn के खिलाफ यही रण नीति अपनायी थी पहले नेट्स पे वो भी हाफ पिच पे मुंबई के एक लोकल गेंद बाज़ से बोलिंग करवाई सचिन ने लेग स्टंप की लाइन पर पिच को फावड़े से खुदवा दिया था ताकि लोकल गेंदबाज़ की गेंद shane warn की तरह सामान्य से ज़्यादा स्पिन हो सके और फिर पैडल स्वीप की जम कर प्रैक्टिस की थी और बाद में मैच में वो शॉट्स खेले थे। दोस्तों सचिन ने भी पहले कुछ देर तक हाफ पिच पर ही प्रैक्टिस की थी।

क्रिकेट बैटिंग कैसे सीखें

batsman

start playing on the roof – छत पर क्रिकेट खेलें – batting practice and training

Ways to improve cricket batting – छत पर क्रिकेट खेलें यह सुनने में अजीब लगता है पर हम सबने कभी न कभी छत पर क्रिकेट ज़रूर खेला है। भले ही आपको घर से डांट मिले पर छत पर क्रिकेट खेलने के भी फायदे हैं । सबसे बड़ा फायदा आपकी तकनीक में आता है रूफ क्रिकेट से फ्रंट फुट की अच्छी प्रैक्टिस होती है आप गौर करेंगे तो पाएंगे की छत पे आते ही आपका फ्रंट फुट अच्छा निकलने लगता है। दोस्तों ध्यान रहे यहाँ भी आप बल्ले का एज आउट रखें और कोशिश करे की वन टिप वन हैंड आउट रखें। सिक्स मारना तो डेफिनेटली आउट ही रखें। रूल्स को जितना बल्लेबाज़ के खिलाफ रखेंगे उतना ही बल्लेबाज़ की तकनीक में सुधार होगा।

Top cricket batting tips

Remove cover of tennis ball – To face fast bowler – गीले फर्श पर खेलें

टेनिस बॉल का कवर उतारें या पुरानी हो जाने पर उससे गीले फर्श पर खेलें । यह एक बेहद कारगर तरीका है आपको शायद मालूम हो पर सेम यही तरीका सचिन ने शोएब अख्तर के खिलाफ अपनाया था और टेनिस बॉल का उपयोग गीले फर्श पर किया था जानता हूँ आप सोच रहे होंगे की सचिन ने लेदर बॉल क्यों नहीं यूज़ की तो इसकी वजह है बाउंस क्योंकि इंडिया और पाकिस्तान का मैच कहीं विदेश में होना था और वहां बाउंस और पेस अच्छा होता है तब सचिन ने यह ट्रिक आज़मायी थी।

यकीन मानिये यदि आपके पास लेदर किट नहीं है तो यह ट्रिक ज़रूर आज़माए और आपको यकीनन टेनिस बॉल पर ही लैदर वाली फीलिंग ज़रूर आएगी। दोस्तों मैं इतने यकीन से इसलिए कह रहा हूँ क्योंकि मैं भी यह ट्रिक आज़मा चुका हूँ।

बोलिंग एन्ड को गीला न करे केवल बल्लेबाज़ के पास और थोड़ा पिच के मिडिल का हिस्सा बाउंसर के लिए गीला करें। एक बाल्टी भर के पानी साइड में रख लें क्योंकि पिच पर पड़ा पानी बॉल के टप्पा खाने के बाद जल्द ही सूख जाता है। प्रैक्टिस करते वक्त स्लिप पर एज निकले तो आउट ज़रूर रखें यदि पीछे दीवार है तो कोई चांस नहीं पर स्लिप पर कोई व्यक्ति खड़ा है तो कैच छूटने पर भी आउट रखें इससे आप का ऑफ़साइड काफी मज़बूत होगा और यदि आप प्रैक्टिस करते वक्त भी आउट नहीं होते तो मैच में लम्बा टिक सकते हैं अतः प्रैक्टिस को मज़ाक में न लें। यह भी पढ़ें helicoptershot kaise mare हेलकॉप्टर शॉट किंग

Cricket batting practice tips

Cricket player tips – Use heavy bat in practice

प्रैक्टिस करते वक्त अपने रेगुलर बैट से थोड़ा हैवी बैट यूज़ करें इससे मैच में आपको फायदा मिलेगा क्योंकि मैच के वक्त वैसे ही सब कुछ भारी सा लगता है और ऐसे में आपका ज़्यादा वज़नदार बल्ला आपको थोड़ा परेशां कर सकता है इसलिए इस चीज़ की तैयारी पहले ही कर लें। आपने अक्सर खिलाडियों को मैच के दौरान या मैच से पहले 2-3 बैट एक साथ पकड़कर स्टान्स बनाते हुए और शॉट की प्रैक्टिस करते देखा होगा खास तौर पर धोनी ऐसा करते कई बार देखे गए हैं यह सब अपने ऊपर से एक्स्ट्रा मानसिक प्रेशर रिलीज़ करने की स्टेटर्जी होती है और इस स्टेटर्जी से खिलाडी का बल्ला दोगुनी तेज़ी से चलता है। रेलवेज से क्रिकेट कैसे खेले

Cricket coaching batting tips

Use golf ball (cut) – कटी हुई गोल्फ बॉल से प्रैक्टिस करें

गोल्फ बॉल या कोई अच्छी बाउंस खाने वाली बॉल को हल्का साइड से काटें और प्रैक्टिस करें। दोस्तों यूँ तो आपको हमेशा लैदर बॉल से खेलते वक्त पूरी किट पहननी चाहिए खासकर हेलमेट और एल गार्ड बेहद ज़रूरी है। गोल्फ बॉल से प्रैक्टिस करते वक्त चेस्ट गार्ड और एल्बो गार्ड का भी खास ध्यान रखें। क्योंकि यह बॉल बेहद तेज़ और बाउंसी होती है।

कटी गोल्फ बॉल से आपको मूवमेंट वाले बॉलर को खेलने की सही प्रैक्टिस मिलेगी अतः बाउंस विद मूवमेंट की प्रैक्टिस होगी। दोस्तों यह तरीका सचिन तेंदुलकर ने अपने एक इंटरव्यू में बताया था तो भले ही आपके लिए ये नया हो पर क्रिकेटर ऐसे न जाने कितने पैंतरे अपनाते हैं तब जाके रेस में सबसे आगे निकल पाते हैं वरना नेट्स पे तो सारी दुनिया के बल्लेबाज़ भी प्रैक्टिस करते हैं पर सचिन के ही 100 शतक कैसे बन गए उसके पीछे न केवल कड़ी मेहनत है ( जो सब करते हैं ) बल्कि अलग प्रकार से की गई मेहनत है जो आपको दूसरों से कही आगे और अलग करती है ।

इन स्टेप्स को फॉलो करने के साथ साथ बेसिक स्टेप्स को फॉलो करना न भूलें बेसिक स्टैप्स – सुबह जल्दी उठना और दौड़ लगाना, प्रैक्टिस से पहले नियमित वार्म अप करना, डेली अंकुरित चने सुबह उठ कर खाना ताकि अच्छा स्टेमिना बिल्ड हो सके। कोल्ड ड्रिंक्स को ना और दूध को हाँ बोलना। यह भी पढ़ेंरणजी ट्रॉफी में सिलेक्शन कैसे होता है।

विराट कोहली आज भी दूध पीता है कोल्ड ड्रिंक नहीं इसलिए सुपर V कहलाता है। विराट कोहली की तो पानी की एक बोतल भी 500 से 700 रूपए की होती है। सोचिये जो खिलाडी पानी भी इतना सोच कर पीते हैं क्या वह सच में कभी कोल्ड ड्रिंक जैसी चीज़ को टच भी करते होंगे। इसलिए सितारों के विज्ञापनों को फॉलो करने के बजाय उनकी असल आदतों को फॉलो करें ऋतिक रोशन की बॉडी देख कर कोई भी अंदाजा लगा सकता है की ऋतिक ने जिम में 8 पैक एब्स बनाने में कितनी कड़ी मेहनत की होगी और उसे मैनटेन करने में वही कड़ी मेहनत रेगुलर करते होंगे वरना mountain dew पी कर तो सबके ही वैसे एब्स बन जाते।

दोस्तों ज़रूर बताना की आपको यह पोस्ट कैसा लगा यदि कोई भी प्रैक्टिस टिप आपके काम आए तो इससे बेहतर क्या होगा कभी फुरसत मिलने पर कमेंट बॉक्स में बता देना। कोई सवाल या सुझाव हो तो कमेंट कर ज़रूर बताएं

batting practice tips

Batting practice cricket FAQ

घर पर बैटिंग प्रैक्टिस कैसे करें ?

Rope ball use kare – Mirror practice – अकेले प्रैक्टिस करें
सीधे बल्ले से खेलने की आदत सही है। अकेले प्रैक्टिस करने के लिए रोप बॉल सबसे सही उपाय है बॉल हिट करते वक्त हमेशा सीधे बल्ले से खेलने की कोशिश करें। कई बार बिना किसी बॉल के शीशे के सामने सीधे बल्ले से प्रैक्टिस ज़रूर करें यदि बल्ला न हो तो कोई लकड़ी या जस्ट इमेजिन कर के भी अपना स्टान्स चैक करें ना खेलने वाले लोगों को यह पागलपन लगेगा और असल में यह पागलपन ही है जो की कुछ बनने के लिए ज़रूरी है पढ़े लिखे लोग पागलपन को ही पैशन कहते हैं।

बैटिंग प्रैक्टिस कैसे करें ?

प्लास्टिक बॉल का वेट के हिसाब से चयन करें ज़्यादा भारी न ले क्योंकि प्लास्टिक बॉल से आपको स्विंग खेलने की प्रैक्टिस करनी है अतः मध्यम वज़न वाली गेंद ले जो हवा में लहरा सके। दोस्तों प्लास्टिक बॉल से फर्श पर ही खेलें इससे आपको पेस, बाउंस और स्विंग खेलने की प्रैक्टिस करनी चाहिए। बहुत से लोग ये कहते हैं की एक बार लैदर पर खेलने पर टेनिस व प्लास्टिक से नहीं खेलना चाहिए पर यह मिथ्य है कोई तकनीक ख़राब नहीं होती बल्कि मैच के दौरान खिलाडी की पिच में अपने आप को ढालने की क्षमता बढ़ती है।

Cricket batting top 10

cricket batting best tips

1- क्रिकेट बैटिंग टिप – गेंदबाज़ का हाथ अंत तक देखें और जैसे ही गेंदबाज़ क्रीज़ में आए अपना फोकस और बढ़ाएं और लास्ट मोमेंट पर ही कोई शॉट खेलें।

2- फील्डर को देखें और स्पेस को देखें फिर फील्डर पर ज़्यादा ध्यान न दें बल्कि खली स्पेस पर फोकस करें तभी आपका शॉट गैप में जाएगा।

3- बीच बीच में लॉन्ग हैंडल भी यूज़ करें ताकि आपको हाथ खोलने में आसानी हो और ऐसा करने पर ड्राइव्स लगाने में आसानी होती है। लॉन्ग हैंडल का ये मतलब नहीं की आप हवा में ज़ोर से शॉट मारें बल्कि टेक्निकल शॉट्स को ही खुल कर खेलें क्योंकि कई बार हम ज़्यादा ही टेक्निकल हो जाते हैं और ऐसे में अक्सर साधारण से शॉट खेलने में भी दिक्कत हो जाती है और साथ ही गैप ढूंढ़ने में भी परेशानी हो जाती है।

4- सेंचुरी बनाने के लिए हर एक बॉल पर एक्टिव रहना पड़ता है डायरेक्ट शतक के बारे में ना सोचें बल्कि अपने लिए छोटे छोटे गोल सैट कर लें अपनी इन्निंग्स को मैनेज करें हर बॉल के लिए तैयार रहें कोई भी बॉल हलके में या बिना फोकस के ना खेलें।

5- स्ट्राइक लगातार रोटेट करें आपको पता होना चाहिए की आपके लिए क्या फील्ड सजाई गई है यदि आप स्ट्राइक रोटेट करने के लिए बड़े शॉट खेलने पर मजबूर हो जाते हैं तो यकीन मानिये आपकी प्रैक्टिस काफी हद तक कच्ची है इसलिए पुनः नेट्स में जाएं और स्ट्राइक रोटेट की प्रैक्टिस करें वो भी बिना जोखिम उठाए।

6- यदि किसी शॉट में आप लगातार आउट हो रहे हैं और प्रैक्टिस के बाद भी वह शॉट सुधर नहीं रहा तो कुछ समय के लिए उस शॉट को ही बंद कर दें हो सकता है की वह आपके फेवरट शॉट में से एक हो पर उसे बंद कर दें जो की आसान नहीं होगा यदि आप ऐसा कर पाए तो यह एक बड़ी मनोवैज्ञानिक जीत होगी।

कभी कभी ऐसा होता है और इसे ख़राब पैच कहा जाता है जो सभी खिलाडियों के साथ होता है इसलिए इस दौर को शांति से गुजारें और रनो को बटोरने की कोशिश करें फिर एक समय ऐसा भी आएगा की आपके सभी शॉट कारगर साबित होंगे उस समय अपना विकेट लगातार बड़े शॉट खेलकर भेंट करने से पहले इस दौर को ज़रूर याद करें जब आप रनो के लिए मोहताज़ हो गए थे। विराट कोहली और सचिन तेंदुलकर इसी कला के धनि हैं वरना टैलेंट तो बाकी खिलाडियों में भी कूट कूट कर भरा है।

7- तकनीक में आई खराबी आपका बैटिंग एवरेज बिगाड़ सकती है इसलिए फिर से बेसिक चीज़ें याद करें और फिर अपना बैटिंग स्टान्स ठीक करें, बैट स्विंग बेसिक के हिसाब से करें, ग्रिप चैक करें और नेट्स में अभ्यास करें साथ ही अपने बेस्ट शॉट्स को याद करें, शैडो बैटिंग प्रैक्टिस करें अपने बैट स्विंग की विशेष प्रैक्टिस करें इस बार अलग बैटिंग प्रैक्टिस की बजाए सिंपल बैटिंग प्रैक्टिस करें।

8- अपनी स्ट्रेंथ के हिसाब से खेलें यदि आप फ्रंट फुट बैटिंग अच्छा करते हैं तो फ्रंट फुट पर ज़्यादा खेलें और यदि आप बैक फुट अच्छा खेलते है तो बैकफुट पर खेलें किसी भी प्रकार के उकसावे में ना आएं बॉलर की स्लेजिंग यदि अभद्र या गाली हो तो अम्पायर से शिकायत करें खुद रिप्लाई ना करें और दिमाग को ठंडा रख कर बैटिंग पर पूरा ध्यान एकत्रित करें।

9- अपनी पूरी एनर्जी को क्रीज़ में महसूस करें और अपने दिमाग को शांत और एक्टिव रखें दिमाग को हमेशा बिज़ी रखें की किस गेंदबाज़ पर आपको प्रहार करना है और कब एक चुनिंदा स्थान से फील्डर हटे और आप वहीं बिना समय गवाते हुए शॉट खेलें।

10- best batting tips- कोशिश करें की ज़्यादातर शॉट पे आपके पैर का टो यानि पंजा इस्तेमाल हो इससे शॉट के ऊपर आने में आसानी होती है और शॉट में एनर्जी अच्छी लगती है वहीं हिल पर शॉट खेलने से वह एनर्जी और टाइमिंग नहीं मिल पाती और शॉट लेट हो जाता है जिससे ऐल बी डब्ल्यू के चांस ज़्यादा बनते हैं।

ये भी पढ़ें

 हमारे टेलीग्राम ग्रुप से जुड़े


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top
यॉर्कर बॉल कैसे खेला जाता है आई सी सी महिला वर्ल्ड कप 2022 शेडूल अंडर 19 क्रिकेट वर्ल्ड कप 2022 भारतीय दस्ता इरफ़ान पठान बने पिता दोबारा जो रुट ने सचिन का रिकॉर्ड तोडा